करसनभाई पटेल ने कैसे बनायी निरमा कंपनी और बने अरबपति |

0
17

How Karsanbhai Patel Start Nirma Company and become billionaire :

कैसे शुरुआत की कर्सनभाई (Karsanbhai Patel) ने निरमा कंपनी और बने अरबपति ?

Success की प्रयोग में शाला में  जिस इंसान की आज हम बात करने जारहे हैं , और गौर करने जारहे हैं , हो सकता है आपने उनका नाम सुना हो या न सुना हो लेकिन कभी न कभी कंपनी का नाम आपने सुना ही होगा , उनकी कंपनी का नाम है  | सबकी पसंद निरमा , वाशिंग पाउडर निरमा — निरमा |

करसनभाई पटेल ने कैसे बनायी निरमा कंपनी

Karsanbhai Patel एक किसान के बेटे हैं , कर्सनभाई पटेल का जन्म 1945 में मेहसाना में हुआ था , और इन्होने Chemistry में B.Sc की थी , गुजरात के एक शहर अहमदाबाद में इन्होने अपनी करियर की शुरुआत की थी , उनकी सैलरी इतनी जियादा नहीं थी , लेकिन कुछ जियादा कमाने की और कुछ बहेतर करने की इच्छा जरुर थी , तो उन्होंने अपनी Skill की छान-बिन किया Chemistry में वो पढ़े लिखे थे , उसके बाद उन्होंने जॉब की थी जिसके साथ साथ इनकी Chemicals में Knowledge और अच्छा होगया था |

उनकी रूचि और जानकारी Chemicals में बहुत अच्छी होगयी थी , इन्होने अपने Skills के हिसाब से अवसर को ढूँढना शुरू किया | उस समय इन्होने 1960 में यह पता किया की वाशिंग पाउडर बहुत ही महेंगे हैं , और जो भी कंपनी हैं सब विदेशी है | और वाशिंग पाउडर की महेंगे होने की वजह से , जियादातर माध्येम वर्ग के परिवार लोग इतने महेंगे पाउडर खरीद नहीं पाते थे | फिर उहोंने अपने Skills और अवसर को मिलाया और अपने Chemistry के Knowledge को उपयोग करते हुए बना डाला एक सस्ता और अच्छा वाशिंग पाउडर निरमा.

कर्सनभाई पटेल जब जॉब करते थे , वोह जॉब पर जाते और आते समय अपनी साइकिल पर घर- घर में अपना बनाया हुआ वाशिंग पाउडर बेचते हुए आते और जाते | उन्होंने वाशिंग पाउडर की कीमत उस समय 3 रुपए में 1किलोग्राम रखी थी , जबकि उस समय पर मार्किट में जो बाकी की कंपनी थीं उनके पाउडर की कीमत 30 रुपए थी |और क्यूंकि उनको अपनी क्वालिटी पर भरोसा था तो उन्होंने पैसे वापस करने की गारंटी भी देदी , Karsanbhai Patel खुद ही वो प्रोडक्ट बनाते थे , और खुद ही प्रोडक्ट बेचते भी थे और ऐसे ही अपनी रोज – रोज की महेनत एक साथ वो अहमदाबाद की माध्यम वर्ग के लोगों के बीच में अपनी वाशिंग पाउडर को फेमस करते गए.

लोग इस सस्ते और अच्छे पाउडर को ही खरीदने की इच्छा रखते थे , और धीरे धीरे देखते ही देखते कुछ सालों में निरमा भारत के टॉप ब्रांड्स में आगया , 1969 में घर घर जाकर अपनी साईकिल पर जाकर बेचने वाले कर्सन भाई पटेल (Karsanbhai Patel) आज 640मिलियन डॉलर (48487980000.00 भारतीय रुपए) से जियादा के मालिक हैं |

एक आदमी से शुर की गयी इस निरमा कंपनी में आज लग-भग 14000 लोग काम करते हैं , तो वेव्सायी के लिए बहुत जरुरी है की वो अपनी skills को जांचे-छान-बिन करें | और अपने आस पास अवसर को अध्यन (study) करें. क्यूँ की जब skills और अवसर मिल जाते हैं तो बन जाती है Success |

Friends में हमेशा की तरह यूँ ही प्रेरित (मोटीवेट) करता रहूँगा , ताकि आप प्रेरित रहें , इंस्पायर्ड रहें और अपने लछ्य के लिए प्रेरित रहें | अगर आप को ये स्टोरी पसंद आई यो तो कमेंट के माध्यम से जरुर बताएं या ईमेल भी करसकते हैं . धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here