सॉफ्टवेयर इंजीनियर क्या है? Software इंजीनियर कैसे बने? सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग डिटेल्स हिंदी में

0
6

सॉफ्टवेयर इंजीनियर क्या है? Software इंजीनियर कैसे बने: हर इंसान का सपना होता है कि वह लाइफ में कुछ अच्छा बने। कोई इंजीनयर बनना चाहता है तो कोई डॉक्टर बनना चाहता है। कई लोगो का इंटरेस्ट होता है सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग(Software Engineer) यानी कि सॉफ्टवेयर डेवलोपमेंट में।

यह फैसला तो बिल्कुल ठीक है, लेकिन कुछ लोगो को यह नही पता होगा कि हमे सोफ्टवेयर इंजीनियरिंग(Software Engineer) बनने के लिए क्या क्या Steps फॉलो करने पड़ते है और आगे जाकर हमे किस तरह की पढ़ाई करनी चाहिए।

तो आज के इस पोस्ट में हम इसी के बारे में बात करेंगे और जानेंगे कि सॉफ्टवेयर इंजीनियर(Software Engineer) बनने के लिए हमें क्या क्या करना चाहिए ? तो चलिए Step By Step इसके बारे में जानते है।

सॉफ्टवेयर इंजीनियर क्या है? Software इंजीनियर कैसे बने? सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग डिटेल्स हिंदी में

1. Computer Field में बैचलर कोर्स करे : अगर आपको सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग(Software Engineer) में इंटरेस्ट है और आप अगर सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग(Software Engineer) में कुछ करना चाहते हो तो आपको इसके लिए सबसे पहले किसी भी कंप्यूटर फील्ड से जुड़े कोर्स की बैचलर डिग्री के लिए Apply करना होगा। आप इसके लिए इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी जैसे कोर्स के लिए Apply कर सकते हो। तो यहां पर आपके पास कम से कम बारहवीं क्लास का सर्टिफिकेट होना जरूरी है तभी आप किसी भी डिग्री के लिए अप्लाई कर सकते।

इसमें से कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपने 11th और 12th में कौन सा सब्जेक्ट लिया था। लेकिन अगर आप कंप्यूटर साइंस के लिए अप्लाई करते हैं तो 11वीं और 12वीं मैं आपके पास साइंस होना जरूरी है। लेकिन अगर आपके पास Arts या Commerce है तो आप बेसिकली BCA के लिये Apply कर सकते है।

2. कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को सही तरीके से सीखे : अगर आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर(Software Engineer) बनना चाहते हो या फिर कंप्यूटर फील्ड में कुछ भी करना चाहते हो तो आपको इसके लिए कंप्यूटर प्रोगरामिंग में एक्सपर्ट हो ना ही होगा।

इसलिए आप जहां पर भी बेचलर डिग्री के लिए कोर्स कर रहे हो वहां पर आपको प्रोग्रामिंग भी सिखाई जाएगी तब आप सही तरीके से और आसानी से प्रोग्रामिंग को सीखे।

आप घर पर ही अपने लैपटॉप या मोबाइल में प्रोग्रामिंग का काम करें और प्रोग्रामिंग की लैंग्वेज को सीखें क्योंकि आने वाले टाइम में यही आपके काम आने वाली है।

3. अपने प्रोगरामिंग लैंग्वेज को स्ट्रांग बनाये : अगर आप क्या कर रहे कंप्यूटर के फील्ड में बहुत कुछ करना है या फिर एक प्रोफेशनल सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना है तो इसके लिए आपको बेसिकली अपने प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को स्ट्रांग बनाना होगा।

क्योंकि जितने भी सॉफ्टवेयर बनाए जाते हैं वह बेसिकली एक लॉजिक पर ही बनाए जाते हैं। जब तक आप किसी सॉफ्टवेयर के लिए लॉजिक अप्लाई नहीं करोगे तो वह सॉफ्टवेयर नहीं होगा यानी की चलेगा नहीं। तो इसके लिए बेसिकली आप का Maths अच्छा होना जरूरी है।

4. छोटे छोटे सॉफ्टवेयर बनाने की कोशिश करे : आप जहां पर भी सॉफ्टवेयर इंजीनियर(Software Engineer) बनने के लिए बैचलर डिग्री का कोर्स कर रहे हैं वहां पर आपको प्रोग्रामिंग लैंग्वेज भी सिखाई जाती होगी। आपकी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के जरिए छोटे छोटे सॉफ्टवेयर बना सकते हैं।

ऐसे मैं आपको कोशिश करते रहना चाहिए कि आप को जब भी टाइम मिले तब आप एक छोटा सा सॉफ्टवेयर बना दे और उसे हर वक्त अपग्रेड करने यानी कि बेहतर बनाने में अपना टाइम लगाएं। ऐसे में आपका हाथ सॉफ्टवेयर बनाने में अच्छा होता जाएगा और आप एकदम परफेक्ट सॉफ्टवेयर मेकर बन जाओगे।

अगर आप खुद का अच्छे सॉफ्टवेयर बनाने लग जाते हो तो आप अपने सॉफ्टवेयर को भेजकर या फिर किसी कंपनी में प्रोफेशनल तौर पर सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग(Software Engineer) का काम कर सकते हो, किससे कि ना केवल आपका करियर सेट होगा बल्कि आपकी इनकम भी शानदार होगी।

5. छोटी सॉफ्टवेयर कंपनी में Apply करे : यह आपका सबसे लास्ट स्टॉप होगा जो कि आपको अपने करियर की तरफ ले जाएगा। जब आप छोटे सॉफ्टवेयर बनाने में एक्सपर्ट हो जाओ तो आप किसी छोटी कंपनी को ज्वाइन कर लो भले ही आपको वहां पर सैलरी कम मिले।

वहां पर आपको अधिक जानकारी मिलेगी और धीरे-धीरे छोटे छोटे सॉफ्टवेयर बनाते-बनाते आप बड़े सॉफ्टवेयर बनाने लग जाएंगे जिसके बाद आपको खुद सॉफ्टवेयर मेकिंग के ऑफर आने लगेंगे और आप किसी भी कंपनी में जॉब कर पाओगे।

Than Guys, I Hope आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा। ऐसे ही अन्य Post पढ़ने के लिए हमारे Blog को Email के द्वारा Follow करे।

इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर करके हमे सराहना जरूर दे !!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here